Chanderi.org

About Chanderi

कोशक महल

यह सरल पर भव्य इमारत, जो कि चंदेरी शहर से… [more]

कोशक महल कोशक महल

शहजादी का रौजा

यह सुरुचिपूर्ण संरचना जिसे एक 12 फुट ऊँचे… [more]

शहजादी का रौजा शहजादी का रौजा

रामनगर महल व संग्रहालय

कटी घाटी फाटक से होकर जो सड़क जा रही है वो… [more]

रामनगर महल व संग्रहालय रामनगर महल व संग्रहालय

पुराना मदरसा

मालवा सल्तनत के महमूद खिलजी के संरक्षण… [more]

पुराना मदरसा पुराना मदरसा

कटी घाटी गेटवे

यह हेरालडीक संरचना, जो कि पूरी तरह से एक… [more]

कटी घाटी गेटवे कटी घाटी गेटवे

बेहटी मठ

बेहटी गाँव से 3 किलोमीटर की दूरी पर, जो कि… [more]

बेहटी मठ बेहटी मठ

नानुआन शिलाचित्र

नानुआन गांव के पास, उर्वशी नदी के किनारे-किनारे… [more]

नानुआन शिलाचित्र नानुआन शिलाचित्र

ईदगाह

यह मस्जिद जो कि मुख्य शहर से काफी कम दूरी… [more]

ईदगाह ईदगाह

खानदारगिरी मंदिर

रामनगर सड़क पर शहर से 2 किलोमीटर की दूरी… [more]

खानदारगिरी मंदिर खानदारगिरी मंदिर

बादल महल दरवाजा

यह संरचना, चंदेरी के सभी स्मारकों के बीच… [more]

बादल महल दरवाजा बादल महल दरवाजा

सिंहपुर महल

विंध्याचल पर्वत श्रृंखलाओं के बीच में… [more]

सिंहपुर महल सिंहपुर महल

कीर्ति दुर्ग

कीर्ति दुर्ग सबसे पहले 11 वीं सदी में प्रतिहार… [more]

कीर्ति दुर्ग कीर्ति दुर्ग

जामा मस्जिद

जामा मस्जिद, जहाँ नमाज के समय 2000 से अधिक… [more]

जामा मस्जिद जामा मस्जिद

जागेश्वरी मंदिर

इस मंदिर की स्थापना के पीछे एक किदवंती… [more]

जागेश्वरी मंदिर जागेश्वरी मंदिर

निजामुद्दीन के परिवार के कब्र

चंदेरी- मोंगावली रोड से होकर, जामा मस्जिद… [more]

निजामुद्दीन के परिवार के कब्र निजामुद्दीन के परिवार के कब्र

Singhpur Palace,Chanderiविंध्याचल पर्वत श्रृंखलाओं के बीच में बसा सिंहपुर महल चंदेरी से 4 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। तीन मंजिला यह इमारत देवी सिंह बुंदेला के आदेशानुसार वर्ष 1656 में बनावाया गया था और एक शिकार रेस्ट हाउस के रूप में काम आता था। महल के पास एक तालाब है जो मलिक हैवात निज़ाम के द्वारा सन् 1433 ई. में होशुंग शाह घोरी के शासनकाल के दौरान बनवाया गया था। घना जंगल और नजदीक स्थित तालाब इसे एक आदर्श आराम करने का स्थान बनाते है।

Continue reading “सिंहपुर महल” »

Kirti Durg,Chanderiकीर्ति दुर्ग सबसे पहले 11 वीं सदी में प्रतिहार के राजा कीर्ति पाल द्वारा बनवाया गया था और इसका नाम उनके नाम पर ही रखा गया है। जो संरचना हम आज देखते हैं वह मूल किला नहीं है, इसका कई बार पुनर्निर्माण करवाया गया है और इसमें अन्य शासकों द्वारा और अधिक निर्माण करवाया गया है जिनमें महमूद खिलजी, दुर्जन सिंह बुंदेला और अन्य शामिल हैं। चंद्रगिरी पहाड के उच्चतम शिखर पर निर्मित यह किला चंदेरी में एक विशिष्ट संरचना है जो पूरे चन्देरी शहर के लगभग हर बिंदु से दिखाई देता है।

Continue reading “कीर्ति दुर्ग” »

Jama Masjid,Chanderiजामा मस्जिद, जहाँ नमाज के समय 2000 से अधिक व्यक्तियों के समायोजन की क्षमता है, चंदेरी में सबसे बड़ा तथा सबसे पुरानी मस्जिद है और संभवतः बुंदेलखंड में भी। इस प्रभावशाली स्मारक की आधारशिला तब रखी गयी थी जब चंदेरी घयासुद्दीन बलवान द्वारा शहर के अपने कब्जे में करने के बाद दिल्ली सल्तनत के नियंत्रण के अधीन आया।

Continue reading “जामा मस्जिद” »

Jageshwari Temple,Chanderiइस मंदिर की स्थापना के पीछे एक किदवंती है कि कैसे आधुनिक चंदेरी का निर्माण हुआ, जब प्रतिहार के राजा कृतिपाल ने जल का चमत्कार देखा। यद्यपि इस तथ्य के प्रमाण में कोई शिलालेख नहीं मिला है जिससे की इसकी स्थापना की तारीख की पुष्टि हो सके, मंदिर के कुछ तत्व इस ओर इशारा करते हैं कि वे संभवतः 11 वीं शताब्दी या संभवतः उससे पहले की सदियों के हैं।

Continue reading “जागेश्वरी मंदिर” »

Nizamuddin Family Tomb,Chanderiचंदेरी- मोंगावली रोड से होकर, जामा मस्जिद के निकट स्थित, अंदर शहर या भीतरी शहर का यह साइट भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण के संरक्षण के अंतर्गत आता है। हालांकि कब्रों को हजरत निजामुद्दीन के परिवार के सदस्यों का कहा जाता है, लेकिन अगर अधिक सही तौर पर कहा जाये तो ये चिश्तिया निजामिया संप्रदाय के अनुयायियों के हैं।

Continue reading “निजामुद्दीन के परिवार के कब्र” »

VIDEO

TAG CLOUD


Supported By