Chanderi.org

About Chanderi

निम्न तालिका से इस विशेष जड़ी बूटी के उपयोग, खुराक व अन्य तथ्यों के बारे में संक्षिप्त जानकारी मिलेगी:

वानस्पतिक नाम क्लेरोडेनड्रम फ्लोमीडिस
अंग्रेजी नाम
हिन्दी नाम अर्नी
चंदेरी में स्थानीय नाम इनी
के लिए प्रयुक्त
  • इसकी पत्तियाँ विशेष रूप से मधुमेह के इलाज में सहायक हैं क्योंकि वे शरीर में रक्त शर्करा के स्तर को स्थिर करते हैं।
  • शारीरिक दर्द भी इसके पत्ते से निकले रस खाने से दूर होता है।
  • इस पौधे की जड़ों से त्वचा की समस्याओं का उपचार होता है।
  • माना जाता है कि सूजाक भी इसकी जड़ों से बनी दवाई के द्वारा ठीक हो जाता है।
खुराक
मौसम
विष विज्ञान

Comments are closed.

VIDEO

TAG CLOUD


Supported By